अक्षर पटेल (Axar Patel) और रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने पिच से मिल रही मदद का पूरा फायदा उठाकर विकेटों के पतझड़ का गवाह बने दिन रात्रि तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में भारत को गुरुवार को अहमदाबाद के मोटेरा में दूसरे दिन ही इंग्लैंड पर 10 विकेट से बड़ी जीत दिलायी.

अपना दूसरा टेस्ट मैच खेल रहे अक्षर ने घरेलू मैदान पर दूसरी पारी में 32 रन देकर पांच विकेट लिये और इस तरह से मैच में 70 रन देकर 11 विकेट हासिल किए. अश्विन ने 48 रन देकर चार विकेट लिए और 400 टेस्ट विकेट के विशिष्ट क्लब में शामिल हुए. इंग्लैंड की टीम दूसरी पारी में 81 रन पर ढेर हो गई जो भारत के खिलाफ उसका न्यूनतम स्कोर है.

भारत के सामने 49 रन का लक्ष्य था जो उसने दूसरे दिन तीसरे सत्र के पहले घंटे में ही बिना विकेट गंवाये हासिल कर दिया. रोहित शर्मा (नाबाद 25) ने विजयी छक्का लगाया जबकि शुभमन गिल 15 रन बनाकर नाबाद रहे.

ये भी पढ़ें: 400 Test Wicket: कपिल देव, अनिल कुंबले, हरभजन सिंह और अब रविचंद्रन अश्विन ने छुआ ये मुकाम

ये मुकाबला इशांत शर्मा के 100वें टेस्ट से लेकर रविचंद्रन अश्विन के 400 विकेट का गवाह बना. आइए इस मैच से जुड़े 10 रिकॉर्ड्स पर नजर डालते हैं- 

1. भारत-इंग्लैंड के बीच ये टेस्ट महज 842 गेंदों में खत्म हो गया. ये वर्ल्ड वॉर के बाद क्रिकेट इतिहास का सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा. 

2. जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड ने एक साथ 121 टेस्ट खेले हैं और ऐसा पहली बार है कि दोनों में से किसी को एक भी विकेट नहीं मिला. 

3. इंग्लैंड लगातार पांचवीं टेस्ट पारी में 200 से कम रन पर ऑल-आउट हो गई. 1888 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है. 

4. भारत में डे-नाइट टेस्ट: बांग्लादेश के खिलाफ- भारतीय तेज गेंदबाजों ने 19 विकेट लिए. इंग्लैंड के खिलाफ- भारतीय स्पिनर्स ने 19 विकेट लिए. 

5. अक्षर पटेल ने मैच में 70 रन देकर 11 विकेट लिए. ये किसी भी डे-नाइट टेस्ट में बेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन है. इससे पहले ये रिकॉर्ड पैट कमिंस (10/62) के नाम था. 

6. सबसे कम टेस्ट में 400 टेस्ट विकेट- रविचंद्रन अश्विन 77 मैच में ये मुकाम छुआ. वो इस मुकाम पर पहुंचने वाले दूसरे सबसे तेज गेंदबाज बने. मुरलीधरन ने ये मुकाम 72 टेस्ट में हासिल किया था. 

7. दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाजों- अश्विन,अक्षर और इशांत ने मैच में 16 विकेट झटके. 

8. पिछले 100 सालों में ऐसा एक बार भी नहीं हुआ था कि स्पिनर पारी का पहली गेंद पर विकेट ले. लेकिन इस सीरीज में ऐसा दो बार हो गया है. पहले टेस्ट में अश्विन ने रोरी बर्न्स को आउट किया था. वहीं तीसरे टेस्ट में अक्षर ने जैक क्राव्ली को आउट किया. 

9. विराट कोहली ने भारत में 29 में से 22 टेस्ट जीतकर एमएस धोनी (30 टेस्ट में से 21 जीत) को पीछे छोड़ा. 

10. अक्षर टेस्ट क्रिकेट की लगातार तीन पारियों में 5 विकेट लेने वाले चौथे गेंदबाज भी बन गए हैं. 

ये भी पढ़ें: इशांत शर्मा ने वो कर दिखाया, जो पहली पारी में बाकी के 21 बल्लेबाज नहीं कर सके