बेटन रूज (अमेरिका), 22 मई (भाषा) लुसियाना में एक चिकित्सा केंद्र ने शुक्रवार को कहा कि उसने राज्य में कोरोना वायरस के उस प्रकार के पहले दो मामलों की पहचान की है जो पहली बार भारत में मिलने के बाद कई स्थानों पर फैला है।

एलएसयू हेल्थ श्रीवपोर्ट ने शुक्रवार को एक समाचार विज्ञप्ति में कहा कि ब्रिटेन और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे चिंता वाला प्रकार माना है क्योंकि विशेषज्ञों के विचार में यह मूल वायरस की तुलना में ज्यादा तेजी से फैलता है।

विज्ञप्ति में कहा गया कि स्वास्थ्य तंत्र ने कहा कि 2,600 से अधिक लोगों में से दो नमूने लिए गए जिसके लिए उसके उभरते वायरस के खतरों की पहचान करने वाले केंद्र ने जीनोम को डिकोड किया।

इसमें बताया गया कि कुल 3,31,000 जांचें की गई जिसमें से 7,600 पॉजिटिव थी।

लुसियाना में कम से कम वायरस के दो अन्य प्रकार देखने को मिले। इनमें से एक की पहचान पहली बार ब्रिटेन में और दूसरे की पहचान ब्राजील में हुई थी।

एलएसयू हेल्थ श्रीवपोर्ट ने कहा कि पहली बार इंग्लैंड में मिला वायरस का प्रकार उत्तर लुसियाना में सबसे ज्यादा मिला है।

एपी

नेहा उमा

उमा