मुंबई और पड़ोसी इलाकों में बुधवार से जारी भारी बारिश में बृहस्पतिवार को कुछ कमी आने के बाद कई इलाकों में जलभराव कम हुआ और यातायात सेवा बहाल की गई.

अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणी मुंबई के कुछ क्षेत्रों में बुधवार को रिकॉर्ड बारिश हुई थी और वहां अब भी जलभराव जैसी स्थिति है.

भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने अगले 24 घंटे में शहर और उपगनरों में भारी बारिश तथा मुंबई मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र के कुछ हिस्सों में काफी ज्यादा बारिश होने की संभावना जताई है.

आईएमडी मुंबई केंद्र के उप महानिदेशक के एस होसालिकर ने बताया कि दक्षिणी मुंबई की कोलाबा वेधशाला ने पिछले 24 घंटे में बृहस्पतिवार सुबह पांच बजकर 30 मिनट तक 330 मिमी बारिश दर्ज की। वहीं पश्चिमी उपनगर सांताक्रूज मौसम स्टेशन ने इस दौरान 146 मिमी बारिश दर्ज की.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘रात से बारिश में कमी आई है लेकिन कोलाबा अगस्त में बारिश के नए रिकॉर्ड बना रहा है’’.

बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बताया कि दक्षिणी मुंबई के कुछ इलाकों में अब भी जलभराव की स्थिति है, जबकि शहर और उपनगर के अन्य हिस्सों में जलभराव कम हुआ है.

बीएमसी की ओर से दी गई सुबह आठ बजे तक की जानकारी के अनुसार वडाला की बीपीटी कालोनी, मध्य मुंबई के नायर अस्पताल, दक्षिणी मुंबई की महर्षि कार्वे रोड और सक्कर पंचायत में अब भी पानी भरा है.

मध्य रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि पटरियों, सिग्नलों और बिजली प्रणाली की जांच के बाद छत्रपति शिवाजी महराज टर्मिनल एवं ठाणे के बीच मुख्य लाइन और सीएसएमटी एवं वाशी के बीच हार्बर लाइन पर लोकल ट्रेन सेवा करीब सुबह सात बजकर 45 मिनट पर चलनी शुरू हुई.

बुधवार को भारी बारिश की वजह से सीएसएमटी और कु्र्ला के बीच पटरियों पर पानी भरने की वजह से सीएसएमटी-ठाणे मुख्य लाइन और सीएसएमटी-वसी हार्बर लाइन पर शाम चार बजे से सेवा निलंबित कर दी गई थी.

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और रेलवे अधिकारियों ने बुधवार को दो लोकल ट्रेनों में सीएसएमटी और सैंडहर्स्ट रोड स्टेशनों के बीच फंसे यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला.

पश्चिमी रेलवे की लोकल ट्रेन सेवा भी बुधवार को चर्चगेट और मुंबई सेंट्रल स्टेशन के बीच पटरियों पर पानी भरने की वजह से निलंबित कर दी गई थी। इस सेवा को बृहस्पतिवार को बहाल कर दिया गया.

बीएमसी ने बताया कि बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट (बेस्ट) बस सेवा भी बहाल कर दी गई.