मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के साथ-साथ रायसेन जिले में भी कोरोना के प्रकरणों में तेजी से गिरावट आ रही है। स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। एक दौर ऐसा था जब रायसेन में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा था लेकिन सभी ने लगातार प्रयास किये, जिसके सुखद परिणाम परिलक्षित हो रहे हैं। अब स्थानीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी को अनलॉक करने के संबंध में फैसला लेना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान रायसेन डिस्ट्रिक्ट क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिले में जिस प्रकार कोरोना संक्रमण दर में कमी आ रही है, उसके लिए जिला प्रशासन और नागरिक बधाई के पात्र है। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए कोरोना कर्फ्यू लागू करने के परिणामस्वरूप कोरोना संक्रमण दर में लगातार कमी आई है। संक्रमण को नियंत्रित करने में जनता का, जनता के लिए, जनता द्वारा मॉडल प्रदेश की अलग पहचान बना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए ग्राम, वार्ड, शहर, ब्लॉक और जिला स्तर पर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप गठित किए गए, जिससे संक्रमण की रोकथाम में मदद मिली।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रायसेन में कोरोना संक्रमण का पॉजिटिविटी रेट एक प्रतिशत के आसपास है। लेकिन अभी भी बेहद सतर्कता बरतने की आवश्यकता है, अगर थोड़ी भी ढिलाई हुई तो यह फिर बढ़ जाएगा। रायसेन में टेस्टिंग लगातार जारी रहे। एक भी नया केस आने पर मरीज को तुरंत इलाज शुरू करके कोविड केयर सेंटर में भेजें, जिससे संक्रमण को रोका जा सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टेस्टिंग के बाद कान्टेक्ट ट्रेसिंग करें, जिससे पाज़िटिव व्यक्ति से मिलने वालों को ढूंढा जा सके और उनका भी टेस्ट करके यथोचित सहायता उपलब्ध करायी जा सके। किल-कोरोना अभियान चलता रहेगा। संक्रमण को बढ़ने नहीं देना है।

 

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, सिलवानी विधायक श्री रामपाल सिंह, भोजपुर विधायक श्री सुरेन्द्र पटवा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता किरार, संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत, आईजी श्री जीएस कुशवाह, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोनिका शुक्ला, अपर कलेक्टर श्री अनिल डामोर, सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  

 

नगरीय निकायों के 182 वार्डों में से 153 वार्ड कोरोना मुक्त

 

जिले के सभी नगरीय निकायों के 182 वार्डों में से 153 वार्ड कोरोना मुक्त है। इनके अतिरिक्त कुल आठ वार्डों में पाँच या पाँच से अधिक संक्रमित मरीज हैं तथा 21 वार्डों में एक से चार तक कोरोना संक्रमित मरीज हैं।  

 

अब तक एक लाख 21 हजार 120 लोगों को लगाई गई वैक्सीन

 

वैक्सीनेशन के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि जिले में कुल एक लाख 21 हजार 120 लोगों को कोविड वैक्सीन का फर्स्ट डोज लग गया है तथा 21 हजार 046 लोगों को सेकेण्ड डोज लग गया है। जिले में 18 से 44 वर्ष तक की आयु के 15 हजार 891 लोगों को कोविड वैक्सीन का फर्स्ट डोज लग गया है। इसी प्रकार 45 से 60 वर्ष तक की आयु के 52 हजार 005 लोगों को फर्स्ट डोज तथा 4832 लोगों को सेकेण्ड डोज लग गया है। जिले में 60 वर्ष से अधिक आयु के 41 हजार 864 लोगों को फर्स्ट डोज एवं 9048 लोगों को सेकेण्ड डोज लग गए हैं।  

 

कोविड केयर सेंटर चालू रहेंगे

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रशासन प्रयास करें कि जो संक्रमित हैं उन्हें कोविड केयर सेंटर में रखा जाये ताकि उनका परिवार सुनिश्चित रहे।

 

दुकानदार और खरीददार दोनों कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करें

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बाजार खोलने के लिये नियम बनाएँ और कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन सुनिश्चित हो। दुकानदार और खरीददार दोनों कोविड से बचने के लिए उचित व्यवहार का पालन करें।  

 

हर वर्ग के लिए राहत देने वाली योजनाएँ बनाई

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना नियंत्रण की स्थिति बनी रहे। फिर से संक्रमण नहीं बढ़ने देना है। राज्य शासन द्वारा विभिन्न वर्गों के लिये कल्याणकारी योजनाएँ लागू की गयी हैं। लोगों की सेवा ही हमारा धर्म है। कोरोना सभी के साथ और समर्थन से ही खत्म होगा। श्री चौहान ने कहा कि कोरोना का टीका सभी लगवाएँ, यही सुरक्षा चक्र है। टीकाकरण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। ग्रामीण क्षेत्रों में सभी को टीका लगे यह गाँव का क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप तय करे। इसे एक अभियान के रूप में चलाएँ।

 

कलेक्टर ने दी जानकारी

 

बैठक में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कोरोना संक्रमण की स्थिति एवं कोरोना नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों पर प्रजेन्टेशन दिया। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक कुल 9062 पॉजीटिव मरीज मिले हैं जिनमें से 8478 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो गए हैं। जिले में 27 मई को 1294 सेम्पल लिए गए थे, जिनमें से 14 पॉजीटिव मिले हैं। जिले की 404 ग्राम पंचायतें कोरोना संक्रमण से मुक्त हैं। चार ग्राम पंचायतों में पॉच या पॉच से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज है तथा 86 ग्राम पंचायतों में एक से चार कोरोना संक्रमित मरीज हैं।  

 

ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों को वर्चुअली किया संबोधित

 

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद ब्लॉक और ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों को वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि एक जून से चरणबद्ध रूप से अनलॉक किया जाएगा। इसके लिए जिला, ब्लॉक, ग्राम और वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य तय करें कि क्या-क्या किस प्रकार खोला जाए और किस सीमा तक छूट प्रदान करनी है। उन्होंने कहा कि विवाह समारोह आदि भीड़भाड़ वाले आयोजनों को टाला जाए।  

 

#Jansamparkmp  #MadhyaPradesh