मुंबई, 28 अप्रैल (भाषा) कंपनियों के बेहतर तिमाही वित्तीय परिणाम के बीच शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला लगातार तीसरे दिन बुधवार को भी जारी रहा और बीएसई सेंसेक्स में 790 अंक का उछाल आया जबकि एनएसई निफ्टी 14,850 के ऊपर पहुंच गया।

कारोबारियों के अनुसार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूती तथा वायदा एवं विकल्प खंड में अनुबंधों के समाप्त होने से पहले सौदों को पूरा करने के लिये लिवाली से बाजार को गति मिली।

तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सूचकांक 789.70 अंक यानी 1.61 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,733.84 अंक पर बंद हुआ।

इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 211.50 अंक यानी 1.44 प्रतिशत उछलकर 14,864.55 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के शेयरों में बजाज फाइनेंस सर्वाधिक लाभ में रहा और इसमें 8.32 प्रतिशत की तेजी आयी। कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ चौथी तिमाही में 42 प्रतिशत उछलकर 1,347 करोड़ रुपये रहने की खबर से शेयर में तेजी आयी।

बजाज फिनसर्व 4.06 प्रतिशत चढ़ा। कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ चौथी तिमाही में चार गुना उछलकर 979 करोड़ रुपये रहने की सूचना से शेयर में मजबूती आयी।

इसके अलावा इंडसइंड बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक, एसबीआई, बजाज ऑटो और एचडीएफसी बैंक में भी 5.08 प्रतिशत तक की तेजी रही।

दूसरी तरफ नेस्ले इंडिया, एचसीएल टेक, एल एंड टी, डा. रेड्डीज और टीसीएस शेयरों में 0.96 प्रतिशत तक की गिरावट रही।

रिलायंस सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘‘वित्तीय कंपनियों के शेयरों में लिवाली जारी रहने से कोविड-19 मामलों में तेजी के बावजूद बाजार में तेजी आयी। महाराष्ट्र और मुंबई में दैनिक आधार कोविड मामलों में कमी से बाजार को कुछ राहत मिली है। पुन: वायदा एवं विकल्प खंड में सौदों को पूरा करने के लिये शाट कवरिंग से भी तेजी को बल मिला।’’

उन्होंने कहा, ‘‘आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और बजाज फाइनेंस जैसी कंपनियों के चौथी तिमाही के परिणाम बेहतर रहने तथा प्रबंधन की तरफ से मौजूदा चुनौतियों के बावजूद सकारात्मक बातों से भी बाजार को समर्थन मिल रहा है।’’

मोदी के अनुसार इस सप्ताह शेयर बाजार में तेजी से निवेशकों की संपत्ति पिछले तीन दिन में 6 लाख करोड़ रुपये से अधिक बढ़ गयी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार को जारी आंकड़े के अनुसार देश में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में रिकॉर्ड 3,60,960 नये मामले सामने आने के साथ संक्रमण के कुल मामले 1,79,9,267 हो गए हैं। वहीं 3,293 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या दो लाख को पार कर गई है।

एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, हांगकांग और तोक्यो लाभ में रहे जबकि सोल नुकसान में रहा।

यूरोप के प्रमुख बाजारों में मध्यह्न कारोबार में तेजी का रुख रहा।

इस बीच ब्रेंट क्रूड 0.23 प्रतिशत की बढ़त के साथ 65.82 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 30 पैसे मजबूत होकर 74.36 पर पहुंच गया।

शेयर बाजार में उपलब्ध अस्थायी आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध बिकवाल रहे और मंगलवार को शुद्ध रूप से 1,454.75 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

भाषा

रमण मनोहर

मनोहर