कोलकाता/भुवनेश्वर, 23 मई (भाषा) बंगाल की खाड़ी के पूर्व में बना दबाव बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। इस वजह से 155-165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने और इस चक्रवाती तूफान के 26 मई को ओडिशा के पारादीप और पश्चिम बंगाल में सागर द्वीप पर पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग ने रविवार को इस बारे में बताया।

कोलकाता में क्षेत्रीय मौसम केंद्र के उप निदेशक संजीव बंदोपाध्याय ने बताया कि पश्चिम बंगाल में दीघा से 670 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व और पारादीप से 590 किलोमीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व में बने इस दबाव के आगे बढ़ने से दोनों राज्यों के तटवर्ती और भीतरी क्षेत्रों में भारी बारिश होगी।

दबाव का यह क्षेत्र 24 मई की सुबह चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा और उत्तर-पश्चिमोत्तर दिशा की ओर बढ़ेगा।

बंदोपाध्याय ने कहा, ‘‘इससे अगले 24 घंटे में यह बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा और 26 मई की सुबह पश्चिम बंगाल-ओडिशा तट के पास बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्से में पहुंचेगा।’’

पश्चिम बंगाल में पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, दक्षिण और उत्तरी 24 परगना के साथ हावड़ा और हुगली में 25 मई से हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘नदिया, पूर्वी और पश्चिमी वर्द्धमान, बांकुड़ा, पुरुलिया और बीरभूम में भारी बारिश होगी।’’

बंदोपाध्याय ने कहा कि राज्य के उप हिमालयी और पश्चिमी जिलों में 27 मई को भारी बारिश का अनुमान है।

मौसम विभाग ने कहा है कि 25 मई से ओडिशा में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी। वहीं राज्य के उत्तरी तटवर्ती जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है।

मौसम विभाग ने कहा है कि 24 मई को अंडमान निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी । कुछ जगहों पर भारी बारिश भी हो सकती है।