कोरोना संक्रमण के चलते मरीजों के लिए इंदौर के खंडवा रोड स्थित राधास्वामी सत्संग व्यास में प्रदेश का सबसे बड़ा मां अहिल्या कोविड केयर सेंटर बनकर तैयार हो गया है. इसमें ए सिम्टोमैटिक यानी कम लक्षण वाले मरीजों को भर्ती किया जाएगा. गुरुवार की शाम से यहां आरआरटी टीम द्वारा मरीजों को भर्ती करना शुरू कर दिया जाएगा. इतना ही नहीं इस सेंटर में मरीजों के मनोरंजन के लिए 10 बड़े एलईडी लगाए गए हैं. जिसपर लोगों को प्रतिदिन दिन रामायण, महाभारत IPL का प्रसारण किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- Earth Day 2021: कंगना रनौत ने पौधा लगाते हुए पूछा सवाल, हमने धरती को क्या दिया?

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया, ''यह सेंटर सर्वसुविधाओं से परिपूर्ण रहेगा. यहां जनभागीदारी से करीब दो करोड़ से अधिक की लागत के दो ऑक्सीजन प्लांट तैयार किए जा रहे हैं. इनकी क्षमता 850 लीटर प्रति मिनट रहेगी. जिले के निजी चिकित्सालयों में डिमांड व सप्लाई के आधार पर रेमडेसिविर इंजेक्शन के उपयोग की मॉनिटरिंग की जा रही है. ​​​​​कलेक्टर द्वारा यहां मरीजों के ‍लिए सीएमएचओ को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है.''

कुल 6000 बेड का अस्थाई कोविड सेंटर बनेगा

इंदौर में कोविड सेंटर बना है.

कोरोना संक्रमण को देखते हुए 45 एकड़ जमीन पर राधा स्वामी सत्संग व्यास द्वारा यहां कुल 6 हजार बेड का कोविड सेंटर तैयार किया जाना है. अभी पहले फेज में 600 बेड का सेंटर तैयार हो चुका है. इसी तरह आने वाले समय में यहां करीब 5 हजार 400 बेड और तैयार किये जाएंगे. सभी सुविधाओं से परिपूर्ण इस सेंटर में खाने से लेकर साफ सफाई हाउसकीपिंग मेडिकल फार्मासिस्ट सहित अन्य सभी सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी.

यह भी पढ़ें- नवरात्रि पर 'प्याज' को लेकर ट्रोल हुईं कंगना रनौत ने दिया जवाब, बोलीं- हिंदू धर्म इतना कठोर नहीं

यह भी पढ़ें- Jharkhand Lockdown: आज से 29 अप्रैल तक झारखंड में है लॉकडाउन, जानें क्या हैं दिशा-निर्देश?