शिलॉन्ग, 26 मई (भाषा) मेघालय सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच शिलॉन्ग में 150-150 बिस्तरों की क्षमता वाले तीन और कोविड-19 देखभाल केंद्र स्थापित करने का फैसला किया है।

राज्य के उपमुख्यमंत्री प्रिस्टन तिनसोंग ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि संक्रमण की दूसरी लहर से निपटने के लिए सरकार ने राज्यभर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) के स्तर पर भी कोविड-19 देखभाल केंद्र स्थापित करने का फैसला किया है।

तिनसोंग ने कोविड-19 पर दैनिक समीक्षा बैठक के बाद कहा, ‘‘हमने कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर शिलॉन्ग में और इसके आस-पास बिस्तरों की क्षमता बढ़ाने का फैसला किया है।’’

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने कोविड-19 देखभाल केंद्र के तौर पर शिलॉन्ग में तीन स्थानों की पहचान की हैं।

ये तीन जगह रिनजाह में आईटीआई कार्यालय भवन, मल्की में बीटीसी नया भवन और नोंग्रिम हिल्स में वाणिज्य एवं उद्योग निदेशालय कार्यालय हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने विचार-विमर्श के बाद इन तीनों स्थानों को कोविड-19 देखभाल केंद्र बनाने का फैसला किया।’’

तिनसोंग ने बताया कि हर केंद्र में 150 बिस्तर होंगे। इसके अलावा सरकार राज्य में सीएचसी और पीएचसी स्तर पर 20-20 बिस्तर बढ़ाएगी।