बिहार विधानसभा चुनाव जैस-जैसे नजदीक आ रहा है, प्रदेश में जोड़ तोड़ की राजनीति शुरू हो गई है. इन दिनों लगातार कई विधायक अपना पाला बदलने में लगे हैं. जहां एक ओर जेडीयू के विधायक आरजेडी में शामिल हो रहे हैं. आरजेडी से कई विधायक जेडीयू का दामन थाम रहे हैं. हाल ही में आरजेडी के तीन विधायक जेडीयू में शामिल होने के बाद अब लालू के समधी चंद्रिका राय भी जेडीयू का हाथ थाम लिया है.

आरजेडी से निष्कासित तीन और विधायकों ने गुरुवार को जेडीयू का दामन थाम लिया है. इसमें लालू के समधी और तेज प्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय समेत फराज फातमी और जयवर्धन यादव जेडीयू में शामिल हो गए.

बता दें, चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या राय के साथ लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी हुई है. हालांकि, तेज प्रताप यादव ने ऐश्वर्या से तलाक के लिए मुकदमा दायर कर रखा है. शादी बचाने के लिए काफी कोशिश की गई लेकिन तलाक का मुकदमा वापस नहीं लिया गया है. इस मामले के बाद से लालू परिवार और चंद्रिका राय के रिश्तों में दरार आ गई.

हाल ही जेडीयू से निष्कासित श्याम रजक आरजेडी में शामिल हुए थे. लेकिन इसके बाद अब तक 6 विधायक आरजेडी से जेडीयू में आ चुके हैं. वहीं, गुरुवार को हम पार्टी के प्रमुख जीतनराम मांझी ने भी महागठबंधन से रिश्ता तोड़ दिया है. इसके साथ ही अटकलें तेज हो गई है कि मांझी अपनी पार्टी जेडीयू में विलय कर सकते हैं या एनडीए गठबंधन में पार्टी को शामिल कर सकते हैं.

बहरहाल, बिहार में अभी जोड़ तोड़ की सियासत और तेज होने वाली है. वहीं, कांग्रेस में भी ऐसी ही सुगबुगाहट दिख रही है.