बेंगलुरु, 28 अप्रैल (भाषा) कर्नाटक में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बीच राज्य के राजस्व मंत्री ए अशोक ने बुधवार को दावा किया कि कई संक्रमित लोगों ने अपने मोबाइल बंद कर लिए हैं और उनमें से करीब 3000 लोग बेंगलुरु से ‘लापता’ हैं।

मंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि पुलिस से ऐसे लोगों का पता लगाने को कहा गया है।

अशोक ने कहा, ‘‘हम लोगों को निशुल्क दवाइयां दे रहे हैं जिससे 90 प्रतिशत तक मामले नियंत्रित किए जा सकते हैं लेकिन उन्होंने (संक्रमित लोगों) अपने मोबाइल फोन ही बंद कर लिए हैं। वे गंभीर स्थिति में अस्पताल पहुंच जाते हैं और फिर आईसीयू बेड तलाशते हैं। इन दिनों ऐसा ही हो रहा है।’’

उन्होंने कहा कि कई संक्रमित लोगों ने अपने मोबाइल फोन बंद कर लिए हैं और अपने बारे में किसी को बता भी नहीं रहे इससे स्थिति काफी जटिल हो गयी है।

मंत्री ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि बेंगलुरु में कम से कम 2,000 से 3,000 लोगों ने अपने फोन बंद कर लिए हैं और अपने घर से कहीं और चले गए हैं। हमें पता नहीं चल रहा कि वे कहां गए हैं।’’

कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए राज्य सरकार ने मंगलवार रात से 14 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाया है।

कर्नाटक में मंगलवार को संक्रमण के 30,000 से ज्यादा मामले आए। बेंगलुरु शहर में ही 17000 से ज्यादा लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई । राज्य में उपचाराधीन मरीजों की संख्या तीन लाख से ज्यादा है वहीं बेंगलुरु में दो लाख से ज्यादा मरीज हैं।