अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए सारी तैयारियां पूरी हो चुकी है. 5 अगस्त को होने वाले कार्यक्रम के लिए क्षेत्र की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहीं, पीएम मोदी इस आयोजन में शामिल हो रहे हैं, लिहाजा सुरक्षा व्यवस्था को कड़ी कर दी गई है. पुलिस ने यहां चप्पे-चप्पे पर नजर रखने की व्यवस्था की है.

अयोध्या रेंज के उप महानिरीक्षक (DIG) दीपक कुमार ने एएनआई को बताया, "अयोध्या में पीएम नरेंद्र मोदी की यात्रा की सुरक्षा के लिए एक प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा. कोविद-19 प्रोटोकॉल का भी पालन किया गया है. कोरोना वार्रियरर्स को भी तैनात किए गए हैं.'

कुमार ने आगे कहा, "हम लगातार वीआईपी मार्गों पर ड्रोन के माध्यम से निगरानी रख रहे हैं. अयोध्या में रहने वाले लोगों पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है. इसलिए मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि कोरोना से बचने के लिए वह घर से बाहर न निकलें. हमने बाहर के लोगों को शहर में आने से रोक रहे हैं.'

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (DGP) ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, "आंतरिक सुरक्षा रिंग को विशेष सुरक्षा समूह (SPG) अधिकारी संभालेंगे. वहीं,

पीएम मोदी की आंतरिक सुरक्षा के लिए ऐसे पुलिसकर्मियों को लगाया जाएगा जिनका कोरोना टेस्ट निगेटिव पाया गया है. इसके साथ ही कुछ रिजर्व पुलिस को आइसोलेट रखा गया है.'

ट्रैफिक मूवमेंट को नियंत्रित करने के लिए शहर के कई स्थानों पर बैरिकेड्स लगाए गए हैं जबकि एक डॉग स्क्वायड और महिला विंग की एक प्लाटून को भी तैनात किया गया है.

इसके अलावा अयोध्या के नजदीक भारत-नेपाल सीमा (महाराजगंज) पर सोनौली और तूतीबारी चौकी पर मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं. साथ ही पुलिस पोस्ट पर कैमरे भी लगाए गए हैं.