पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन’ को बड़ा झटका लगा है. महाराष्ट्र में शिवसेना शासित ठाणे नगर निगम (TMC) ने इसके लिए भूमि सौंपने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है.

टीएमसी का यह निर्णय मुंबई मेट्रो के लिए कंजूरमार्ग क्षेत्र में भूमि आवंटन को लेकर शिवसेना नीत महाराष्ट्र सरकार और केंद्र सरकार में विवाद के बीच आया है.

ठाणे नगर निगम के एक अधिकारी ने कहा कि ‘अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन’ परियोजना पर काम कर रहे राष्ट्रीय उच्च गति रेल निगम (NHSRC) के भूमि सौंपने के प्रस्ताव को बुधवार को निगम की एक बैठक में खारिज कर दिया गया.

बिना फाइन के 31 दिसंबर से पहले भरें Income Tax Return, यहां देखें आवेदन करने के 5 आसान स्टेप्स

NHSRC ने टीएमसी से छह करोड़ रुपये के मुआवजे में भूमि का स्वामित्व सौंपने का आग्रह किया था.

निगम की बैठक में इस संबंध में बुधवार को पांचवीं बार प्रस्ताव आया जिसे खारिज कर दिया गया.

Britain से लौटी महिला कोरोना संक्रमित, हाई अलर्ट के बाद भी दिल्ली से आंध्र प्रदेश ट्रेन से पहुंची

वहीं, बीजेपी नेता संजय वागुले ने टीएमसी के इस फैसले की कड़ी आलोचना की है.