केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर पिछले 12 दिनों से किसान प्रदर्शन पर बैठे हैं. किसान संगठनों की ओर से बुलाए गए 'भारत बंद' के दौरान देश में शांति बनी रहे इस बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं. सरकार ने 'भारत बंद' को मद्देनजर रखते हुए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी किए हैं.हम 10 प्वाइंट्स में आपको भारत बंद के दौरान व्यवस्था के बारे में बताने जा रहे हैं.

भारत बंद से जुड़ी 10 बड़ी बातें
1
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार किसानों के साथ है. किसानों के साथ बातचीत करके उनकी शंकाओं का समाधान निकाला जाएगा. राज्य में कोई हिंसात्मक घटना ना घटे इसके लिए सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए गए हैं.
2
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. लोगों से सतर्कता और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने की अपील की.
3
बैंक कर्मचारी संगठनों ने किसानों के 'भारत बंद' में शामिल नहीं होने का ऐलान किया है. हालांकि उन्होंने कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन करने की बात भी कही है.
4
कारोबारी संगठन सीएआईटी और ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट्स वेलफेयर एसोसिएसन ने कहा है कि दिल्ली सहित देशभर में बाजार खुले रहेंगे और परिवहन सेवाओं का संचालन भी जारी रहेगा.
5
कैब और टैक्सी चालक बंद शामिल होंगे, इससे दिल्ली एनसीआर में कैब सेवाएं प्रभावित रहेंगी. मंडी समितियां बंद रहेंगी, फल सब्जी की आपूर्ति भी प्रभावित रहेंगे. दूध सहित कई जरूरी चीजों पर भी असर पड़ेगा. दिल्ली- नोएडा में रोडवेज बसें नहीं चलेंगी, यात्रियों को परेशानी हो सकती है.
6
एंबुलेंस, दमकल विभाहों सहित कई जरूरी सेवाओं की आवाजाही चालू रहेगी. किसी सादी समारोह में आवाजाही पर भी रोक नहीं होगी. दवा की दुकाने खुली रहेंगी और जगब-जगह पुलिस की कड़ी सुरक्षा बनी रहेगी.
7
कांग्रेस, एनसीपी, वामदल, शिवसेना, सपा, अकाली दल सहित करीब 18 विपक्षी दलों ने भारत बंद का समर्थन किया है. इसके अलावा 10 केंद्रीय ट्र्रेड यूनियन ने नैतिक तौर पर समर्थन दिया है. 
8
केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से दिशा निर्देश जारी करते हुए कहा गया कि राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासकों को सुनिश्चित करना चाहिए. कोरोना से बचाव को लेकर गाइडलाइंस जारी हुई है. सामाजिक दूरी बनाते हुए मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
9
किसान नेताओं के अनुसार, भारत बंद के दौरान आपातकालीन सेवाओं को छूट दी जाएगी. प्रदर्शन कर रहे किसानों ने सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक सभी टोल प्लाजाओं को बंद करने की बात कही है.
10
भारतीय किसान एकता संगठन के अध्यक्ष जगजीत सिंह दल्लेवाला ने सोमवार को किसानों से शांति बनाये रखने और बंद लागू करने के लिए किसी से नहीं उलझने की अपील की. (इनपुट्स- PTI)