दिल्ली विधानसभा के नीचे एक सुरंग मिली है जो सीधे लाल किले तक जाती है. इसके साथ ही इस सुरंग को अब आम लोगों के लिए खोलने की तैयारी भी शुरू हो चुकी है. दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल ने इसपर कहा कि इस सुरंग के इतिहास को लेकर अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं हुआ है. इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि ये अंग्रेजों की तरफ से इस्तेमाल में लायी जाती रही होगी.

यह भी पढ़ें: सितंबर महीने हो रहा है आपकी जेब पर असर डालने वाले बदलाव, जान लें

दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल के अनुसार दिल्ली विधानसभा के अंदर बनी सुरंग और फांसी घर को आम लोगों के लिए खोलने की तैयारी भी शुरू की जाती है. उन्होंने आगे कहा कि पर्यटन विभाग को शनिवार और रविवार को विधानसभा में लोगों को लाने की अनुमति होगी, इसको ध्यान में रखते हुए ही विधानसभा का स्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: हरियाणा में घायल प्रदर्शनकारी किसान की वायरल तस्वीर का सच, क्या कांग्रेस ने फैलाया झूठ?

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा, "आने वाली 26 जनवरी या 15 अगस्त से पहले सुरंग और फांसी घर को एक स्वरूप देकर आम जनता के लिए खोला जाएगा." इसके साथ ही उन्होंने कहा, “पर्यटन विभाग को शनिवार और रविवार को विधानसभा में लोगों को लाने की अनुमति दी जाए जिससे ध्यान में रखकर विधानसभा का ढांचा तैयार कर रहा हूं.” इसके साथ ही उन्होंने कहा, “ जब मैं 1993 में विधायक बना था तो ये अफवाह उड़ी थी कि यहां एक सुरंग है जो सीधा लाल किले तक जाती है. इस सुरंग के इतिहास पर कोई स्पष्टता नहीं है, लेकिन इसका इस्तेमाल अंग्रेजों ने स्वतंत्रता सेनानियों को के खिलाफ किया होगा.

वहीं  राम निवास गोयल ने कहा कि दिल्ली विधानसभा फिलहाल जिस भवन में है उसको साल 1912 में बनाया गया है. जब भारत की राजधानी को कोलकाता से दिल्ली स्थानांतरित कर दिया गया था. इसके साथ ही साल 1926 में इसे अदालत की तरह प्रयोग किया जाने लगा. तब इस सुरंग को स्वतंत्रता सेनानियों को अदालत में पेश किया जाता था.  

यह भी पढ़ें: दीपिका पादुकोण के हाथ लगी हॉलीवुड की ये बड़ी फिल्म, एक्टिंग के साथ करेंगी ये भी काम