भारतीय क्रिकेट का यह सुनहरा समय चल रहा है. इस बात का अंदाजा इससे ही लगाया जा सकता है कि टीम इंडिया आने वाले समय में एक ही समय पर दो अंतर्राष्ट्रीय टीमों के खिलाफ अपनी अलग-अलग टीम उतारेगी. टीम इंडिया के इंग्लैंड रवाना होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में टीम इंडिया के कप्तान ने कहा था कि आने वाले समय में आपको दो भारतीय टीम खेलती नजर आएंगी.

यह भी पढ़ेंः WTC Final: तो क्या इस दिग्गज गेंदबाज की जगह सिराज को खिलाएंगे विराट?

श्रीलंका दौरे के लिए नया कोच और नया कप्तान

भारतीय क्रिकेट टीम को इंग्लैंड में न्यूजीलैंड के साथ 18 जून को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना है. वहीं कुछ समय बाद जुलाई में टीम को श्रीलंका के दौरे पर तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज भी खेलेनी है. पहला वनडे मैच 13 जुलाई को खेला जाएगा. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल पर गए खिलाड़ी इस सीरीज का हिस्सा नहीं होंगे. बीसीसीआई इस दौरे पर भारत की युवा टीम को भेजेगा, जिसमें कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया गया है. टीम इंडिया के स्टार ओपनर शिखर धवन को इस टीम का कप्तान घोषित किया गया है. साथ ही भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ को इस दौरे के लिए कोच चुना गया है.

बता दें कि इंग्लैंड दौरे पर गई भारतीय टीम WTC Final के बाद 4 अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैच की टेस्ट सीरीज खेलेगी.

यह भी पढ़ेंः WTC Final को 'मछली की आंख' समझकर प्रैक्टिस करने उतरी टीम इंडिया, आपने Video देखा क्या

आखिर एक भारत की दो क्रिकेट टीमें क्यों

कई लोगों के मन में यह सवाल उठ रहा है कि आखिर एक ही समय में दो भारतीय टीम क्यों खेल रही हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली के अनुसार इसकी वजह मानसिक स्वास्थ्य है. बीते दिनों कोहली ने कहा था कि कोरोना की वजह से खिलाड़ियों को एक लंबे समय तक बायो बबल में रहना पड़ता है जिस कारण से उनके मानसिक स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ता है, इसको ध्यान में रखते हुए भविष्य में दो टीमें खेलती नजर आ सकती हैं.

ये भी पढ़ें: राहुल द्रविड़ की कोचिंग में श्रीलंका का दौरा करेगी टीम इंडिया, जानें कौन होगा कप्तान

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भी पहले ऐसा कर चुके हैं

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने अपने यूट्यूब चैनल- द मैच विनर पर कहा कि ऑस्ट्रलियाई टीम 1995 से 2005 तक अपने चरम पर थी, उस वक्त उन्होंने ऑस्ट्रेलिया ए और ऑस्ट्रेलिया बी नाम की दो अंतर्राष्ट्रीय टीमों को अलग करने की कोशिश की, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं मिली. पूर्व पाक कप्तान ने कहा कि भारत वो कर रहा है जो ऑस्ट्रेलिया भी अपने चरम पर नहीं कर सका, भारत की दोनों टीमें काफी मज़बूत नज़र आ रही हैं.

ये भी पढ़ें: आंकड़े बताते हैं केन विलियमसन शानदार हैं, लेकिन विराट कोहली बेस्ट हैं