महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सुशांत सिंह राजपूत मामले पर बोलते हुए कहा कि इस केस का इस्तेमाल महाराष्ट्र और बिहार के बीच विवाद पैदा करने के लिए न किया जाए. साथ ही उन्होंने मुंबई पुलिस की काबिलियत पर सवाल खड़ा करने वालों की निंदा की.

ठाकरे ने कहा, "मुंबई पुलिस असमर्थ नहीं है. यदि किसी के पास कोई सबूत है तो वे इसे हमारे पास ला सकते हैं. हम पूछताछ करेंगे और दोषी को सजा देंगे. कृपया इस मामले को महाराष्ट्र और बिहार के बीच विवाद पैदा करने के बहाने के रूप में इस्तेमाल न करें." 

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में खुद को निर्दोष बताते हुए शुक्रवार को रिया चक्रवर्ती ने एक वीडियो जारी किया है. वीडियो में उन्होंने कहा है कि, उन्हें भगवान और न्यायालय पर पूरा भरोसा है.

वीडियो में रिया कह रही हैं कि मुझे भगवान और ज्यूडिशरी पर पूरा भरोसा है. मेरे साथ इंसाफ होगा. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में मेरे खिलाफ बहुत ही खराब बातें हो रही हैं. वकील की सलाह के चलते मैं इस मुद्दे पर कोई कमेंट नहीं कर रही. सत्यमेव जयते! सच सामने आएगा.

वहीं, रिया चक्रवर्ती ने जो बिहार के बजाए मुंबई में जांच करने वाली मांग को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में 5 अगस्त को सुनवाई होगी. सिंगल जज की बेंच इस मामले में सुनवाई करेगी.

सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में जांच का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है. अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के सिलसिले में धनशोधन का एक मामला दर्ज कर लिया है. ED ने हाल ही में बिहार पुलिस से प्राथमिकी की प्रति मांगी थी.

ईडी राजपूत के पैसों एवं खातों की कथित हेराफेरी के आरोपों की जांच करेगी. अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी इस बात की जांच करेगी कि क्या किसी ने राजपूत की आय का उपयोग धनशोधन और अवैध संपत्ति बनाने के लिए किया.