संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीपीए) ने 29 जनवरी से संसद का बजट सत्र बुलाए जाने की सिफारिश की है. दो हिस्सों में आयोजित होने वाला बजट सत्र आठ अप्रैल को समाप्त होगा. सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

सूत्रों ने बताया, ‘‘संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीपीए ) ने बजट सत्र का पहला हिस्सा 29 जनवरी से 15 फरवरी तक, दूसरा हिस्सा आठ मार्च से आठ अप्रैल तक आयोजित करने की सिफारिश की.’’

सीसीपीए की सिफारिशों का हवाला देते सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द 29 जनवरी को संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे तथा एक फरवरी को केंद्रीय बजट पेश होगा.

सूत्रों ने बताया कि संसद के बजट सत्र के दौरान कोविड-19 से संबंधित सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा.

सत्र आयोजित करने के बारे में अंतिम निर्णय केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा लिया जायेगा. कोविड-19 के कारण संसद का शीतकालीन सत्र आयोजित नहीं हो सका था.