उत्तर प्रदेश सरकार ने 10वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर बड़ा फैसला लिया है. कोरोना वायरस महामारी वजह से सरकार ने 10वीं बोर्ड परीक्षा को रद्द कर दिया है. प्रदेश में अब यूपी बोर्ड 10वीं 2021 की परीक्षाएं नहीं कराई जाएंगी. इसे लेकर पहले से ही संभावना जताई जा रही थी कि 10वीं की छात्रों को प्रमोट किया जाएगा.

यह पढ़ेंः उत्तर प्रदेश में 24 घंटे में आए 2287 नए केस, सक्रिय मामलों की संख्या घटी

आपको बता दें, CBSE समेत कई राज्यों ने पहले ही 10वीं बोर्ड परीक्षा को रद्द कर दिया है. हालांकि, 12वीं की परीक्षा को देर से आयोजित करने की बात की जा रही है.

10वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर यूपी के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, दसवीं की परीक्षा रद्द कर दी गई है. छात्रों को 11वीं में प्रमोट किया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः सीएम ममता ने कहा- 'जनता के लिए पीएम के पैर छूने को तैयार हूं, राजनीतिक प्रतिशोध बंद करें'

यह भी पढ़ेंः पुलवामा हमले में शहीद मेजर विभूति की पत्नी निकिता Indian Army में बनी लेफ्टिनेंट

वहीं, उन्होंने 12वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर कहा, 12वीं की बोर्ड परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जा सकती है. 12वीं की बोर्ड परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जा सकती है. परीक्षा का समय घटाकर डेढ़ घंटे कर दिया जाएगा, जिसमें छात्रों को 10 प्रश्न में से केवल 3 प्रश्नों को करने होंगे.

यह भी पढ़ेंः Yuvika Chaudhary की बढ़ी मुश्किलें, हो सकती है गिरफ्तारी

बता दें कि यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा के लिए लगभग 29 लाख छात्र रजिस्‍टर्ड हैं जिन्‍हें अब अगली क्‍लास में प्रमोट किया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः IPL 2021: आईपीएल-14 का बाकी मैच अब UAE में खेला जाएगा, BCCI ने दी जानकारी

यह भी पढ़ें- सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर ट्वीट कर बुरे फंसे अनुभव सिन्हा

यह भी पढ़ेंः सुशांत सिंह राजपूत की पहली बरसी पर अली गोनी ने उन्हें किया याद, बोले- ये कमाया था उसने