यूपी ग्राम पंचायत चुनाव (UP Gram Panchayat Chunav 2021) में ग्राम प्रधान के अलावा पंचायत सदस्य (BDC)का भी चुनाव हुआ है. इसके रिजल्ट भी आने लगे हैं. 2 मई से मतगणना की प्रक्रिया शुरू हुई जिसके बाद परिणाम धीरे-धीरे आने शुरू हो चुके हैं.

यह भी पढ़ें- रेमो डिसूजा ने किया सुशांत सिंह राजपूत को याद, बोले- किसी को भी अपना बना लेता था

यह भी पढ़ें- अनुपम खेर ने Twitter से कहा- 36 घंटे में कम हो गए 80 हजार फॉलोअर्स, ये शिकायत नहीं

यह भी पढ़ें- शहीद राम प्रसाद बिस्मिल का लोकप्रिय नारा कौन सा था?

यह भी पढ़ें- आईपीएल 2021 कब शुरू होगा?

यह भी पढ़ेंः क्या है Monthly Income FD? हर महीने होती है आय

यह भी पढ़ेंः 30 जून तक नहीं किया ये काम तो बेकार हो जाएगा आपका PAN कार्ड, लगेगा जुर्माना

यह भी पढ़ेंः भरी कोर्ट में जूही के फैन ने गाया 'घूंघट की आड़ से दिलबर का', जज की एक न सुनी

पंचायत सदस्य की सैलरी जानने से पहले जान ले पंचायत सदस्य होता क्या है. आपको बता दें ग्राम पंचायत के लोग ही अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर अपने क्षेत्र पंचायत सदस्य (BDC) का चुनाव करते हैं. इसके बाद ग्राम पंचायत सदस्य ही आगे ब्लॉक प्रमुख  को चुनते हैं. 

यह भी पढ़ें- KBC 13 के रजिस्ट्रेशन के लिए बचे हैं बस कुछ दिन, जान लें

यह भी पढे़ें- UP Block Pramukh Salary: कितनी होती है ब्लॉक प्रमुख की सैलरी?

यह भी पढ़ें- Black Fungus क्या है?

कम से कम दो या दो से अधिक ग्राम पंचायत मिल कर एक ब्लॉक का गठन करते है, इसके बाद प्रत्येक ग्राम में दो या दो से अधिक क्षेत्र पंचायत सदस्य का निर्वाचन किया जाता है, यह संख्या गावं की आबादी पर निर्भर करती है. इस प्रकार क्षेत्र पंचायत सदस्य मिलकर ब्लॉक प्रमुख को चुनते है.

क्षेत्र पंचायत सदस्यों की सैलरी या मानदेय की बात करें तो उन्हें किसी तरह की सैलरी या मानदेय नहीं मिलता है. हालांकि सरकार पंचायत सदस्यों को भत्ता देती है. इसमें यात्रा भत्ता भी शामिल होता है. इसके अलावा पंचायत की बैठक में शामिल होने के लिए हर बार 500 रुपये की राशि दी जाती है.

यह भी पढ़ें- 

UP Panchayt Chunav Result 2021: सैफई में आजादी के बाद प्रधान पद पर पहली बार बदला इतिहास

UP Panchayat Election: बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहीं मुलायम सिंह की भतीजी हारीं

#GramPanchayat #Panchayat #UttarPradesh #Election #UPPanchayatChunav