भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय खोखर की मंगलवार सुबह तिलवाड़ा मार्ग पर हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खोखर की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

पुलिस के मुताबिक- संजय खोखर सुबह की सैर पर निकले हुए थे, जब हमलावरों ने इस घटना को अंजाम दिया.छपरौली क्षेत्र में पिछले दो महीने में तीन लोगों की हत्या हो चुकी है.

पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने बताया कि छपरौली इलाके के तिलवाड़ा निवासी संजय खोखर (52) मंगलवार सुबह टहलने जा रहे थे जब पहले से घात लगाए कुछ बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई.

उन्होंने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही वह पुलिस बल के साथ मौके पर गए. साथ ही कहा कि अभी तक घटना के संबंध में पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है. सिंह ने कहा, “हत्या का कारण प्रथम दृष्टया रंजिश का लग रहा है.”

पुलिस अधीक्षक के अनुसार हमलावरों ने खोखर को दो गोलियां मारी हैं. इनमें एक सिर में और एक सीने में लगी है.उन्होंने बताया कि घटना के खुलासे के लिए पुलिस की कई टीमें बनाई गई हैं. पुलिस हत्यारों की सरगर्मी से तलाश कर रही है.

गौरतलब है कि संजय खोखर करीब तीन साल भाजपा जिलाध्यक्ष रहे थे. 2019 लोकसभा चुनाव से पूर्व उन्हें जिलाध्यक्ष पद से हटाया था.

वहीं, लखनऊ में एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खोखर की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने खोखर के शोकसंतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है.

मुख्यमंत्री ने इस प्रकरण में जांच कर दोषियों के खिलाफ 24 घंटे में कानूनी कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं.उन्होंने कहा है कि इस प्रकरण में जवाबदेही भी तय की जाए.