उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2021 से पहले ग्राम प्रधान की सैलरी में इजाफा होने की खबर आई थी. ऐसा कहा जा रहा था कि ग्राम प्रधान को लेवल 7 के बराबर 44900 प्रति माह सैलरी मिलेगी. प्रधान अब राजपात्रित अधिकारी होंगे. लेकिन ये खबर फेक थी. 

यह भी पढ़ेंः आजादी के अमृत महोत्सव से नेहरू की तस्वीर गायब, कांग्रेस ने कहा- 'दिल से कैसे निकालोगे'

यह भी पढ़ेंः National Sports Day के मौके पर भाविना पटेल के मेडल से देश में जश्न

यह भी पढ़ें: मिनिषा लांबा ने शेयर की बॉयफ्रेंड के साथ की रोमांटिक तस्वीरें, हो गईं वायरल

यह भी पढ़ेंः कल्याण सिंह के जाने के बाद बीजेपी के लिए यूपी में बढ़ी चुनौती

यह भी पढ़ेंः Indian Railways: अब बिना टिकट को कैंसिल किए भी बदल सकते हैं यात्रा की तारीख

यह भी पढ़ें- Raksha Bandhan 2021: कब और क्यों मनाया जाता है रक्षाबंधन?

यह भी पढ़ेंः VIDEO: गुरजीत कौर का वह शानदार गोल जिससे महिला हॉकी टीम को मिली ऐतिहासिक जीत

य़ह भी पढ़ेंः किसानों आंदोलन पर मीनाक्षी लेखी का विवादित बयान, कहा- 'वह किसान नहीं मवाली हैं'

कैबिनेट में लिए गए निर्णय के बाद कार्मिक और पंचायती राज विभाग ने प्रधानों की सैलरी बढ़ाने का सरकारी आदेश जारी कर दिया है.

यह भी पढ़ें- रणवीर सिंह के कंडोम एड पर उनके पापा का आया था ऐसा रिएक्शन, दिलचस्प है किस्सा

यह भी पढ़ें- PPF में निवेश करना है तो, 1 से 5 जुलाई तक करें डिपॉजिट, मिलेगा ज्यादा फायदा

यह भी पढ़ेंः महसी विधानसभा सीट: BJP विधायक सुरेश्वर सिंह का दबदबा, विपक्षियों को करनी होगी मशक्कत

इस फेक न्यूज में दावा किया गया था- 29 अप्रैल को उत्तर प्रदेश में प्रधानी के चुनाव हुए थे, अब ये सैलरी नए चुने गए प्रधानों को मिलेगी. ये वेतन पंचायती राज विभाग की तरफ से दिया जाएगा.

इसके साथ ही 28 फीसदी महंगाई भत्ता भी मिलेगा. यानी 12576 रुपये महंगाई भत्ता मिलेगा. ग्राम प्रधान का कुल वेतन प्रतिमाह 57476 होगा. इससे पहले ग्राम प्रधानों को मानदेय के रूप में 3500 रुपये महीने मिलते थे. 

* Note: इस खबर को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है, ये होली के मौके पर किया गया एक मजाक था. बुरा न मानों होली टाइप. 

ये भी पढ़ें: अब बिजली से नहीं आवाज से चार्ज होगें स्मार्टफोन, जानें कैसे

ये भी पढ़ें: अमरनाथ मंदिर की क्या हैं मान्यताएं, भक्तों को करता है आकर्षित

#GramPanchayat #Panchayat #UttarPradesh #Election #UPPanchayatChunav