अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन महत्वपूर्ण राज्यों जॉर्जिया और पेनसिल्वेनिया में रिपब्लिकन उम्मीदवार एवं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से आगे चल रहे हैं और वह करीबी मुकाबले में ऐतिहासिक जीत हासिल करने के करीब दिखाई दे रहे हैं.

व्हाइट हाउस पहुंचने के लिए किसी को भी 538 ‘इलेक्टोरल कॉलेज वोट’ में से 270 वोट हासिल करना जरूरी है. चुनाव जीतने वाले को देश के सामने मौजूद कोविड-19 वैश्विक महामारी और गहरे राजनीतिक ध्रुवीकरण समेत कई चुनौतियों का सामना करना होगा. बाइडेन पेनसिल्वेनिया में 9,000 से अधिक मतों और जॉर्जिया में 1,500 से अधिक मतों से आगे हैं. अमेरिका में पिछले तीन दिन से मतगणना जारी है और अब भी यह पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आगामी चार साल के लिए देश का नेतृत्व कौन करेगा.

नवीनतम अनुमानों के अनुसार, बाइडेन को 253 ‘इलेक्टोरल कॉलेज वोट’ मिले हैं जबकि ट्रंप को 213 मिले है. लेकिन कुछ अमेरिकी मीडिया संस्थानों के अनुमान के अनुसार बाइडेन को 264 और ट्रंप को 214 वोट मिले हैं. इस बीच, ट्रंप ने व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह चुनावी कदाचार के खिलाफ अदालत जाएंगे.

उन्होंने चुनाव में बड़े पैमाने पर धांधली का आरोप लगाया लेकिन वह अपने आरोपों के समर्थन में कोई साक्ष्य पेश नहीं सके. ऐसे में बृहस्पतिवार को अमेरिका के कई समाचार चैनलों ने ट्रंप के संवाददाता सम्मेलन के सीधे प्रसारण को बीच में रोक दिया.

ट्रंप का प्रचार दल पहले ही पेनसिलवेनिया, मिशिगन, जॉर्जिया और नवादा में मुकदमे दर्ज करा चुका है. उन्होंने विस्कॉन्सिन में भी मतों की दोबारा गिनती किए जाने की मांग की है. बाइडेन के प्रचार दल ने आरोपों से इनकार किया है.

बाइडेन ने डेलावेयर में पत्रकारों से कहा, ‘‘हमें कोई संदेह नहीं है कि गिनती पूरी होने पर मैं और सीनेटर कमला हैरिस (उप राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार) जीत हासिल करेंगे.’’ कमला हैरिस भी इस दौरान बाइडेन के साथ मौजूद थीं. पूर्व उप राष्ट्रपति बाइडेन ने लोगों से मतगणना पूरी होने तक धैर्य बनाए रखने की भी अपील की.

ट्रंप ने दावा किया है कि अगर केवल ‘वैध मतों’ की ही गिनती होती तो वह राष्ट्रपति चुनाव में आसानी से जीत गए होते. व्हाइट हाउस में बृहस्पतिवार को संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए ट्रंप ने संकेत दिया कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों का फैसला अंतत: उच्चतम न्यायालय में होगा क्योंकि उन्होंने चुनाव में कथित धांधली के खिलाफ बड़े पैमाने पर वाद दाखिल करने की योजना बनाई है.

इस बीच, ट्रंप के चुनाव अभियान के अधिकारी मैट मॉर्गन ने कहा, '' यह चुनाव अभी समाप्त नहीं हुआ है. जो बाइडेन चार राज्यों के नतीजों के आधार पर खुद को विजेता के तौर पर पेश कर रहे हैं लेकिन अंतिम नतीजे अभी दूर हैं. जॉर्जिया दोबारा मतगणना की ओर बढ़ रहा है जिसके बारे में हमें पूरा भरोसा है कि वहां राष्ट्रपति ट्रंप बढ़त बनाएंगे.''