(ललित के झा)

वाशिंगटन, 27 मई (भाषा) अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवान ने बुधवार को अफगानिस्तान के अपने समकक्ष हमदुल्लाह मोहिब से बात की और अन्य मुद्दों के साथ ही शांति प्रक्रिया पर भी चर्चा की। व्हाइट हाउस ने यह जानकारी दी है।

बातचीत के दौरान सुलिवान ने इस पर जोर दिया कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी के बावजूद उनका देश अफगानिस्तान की सरकार और उसके लोगों के साथ खड़ा रहेगा।

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद, व्हाइट हाउस की प्रवक्ता एमिली होर्ने ने कहा, ‘‘सुलिवान और डॉ. मोहिब ने द्विपक्षीय साझेदारी की ताकत पर जोर दिया और एक-दूसरे से साथ करीबी विचार-विमर्श जारी रखने की प्रतिबद्धता जताई। सुलिवान ने अफगानिस्तान के लोगों को असैन्य सहायता देने के साथ ही अफगान राष्ट्रीय रक्षा और सुरक्षा बलों को सुरक्षा सहायता देते रहने की अमेरिका की योजनाओं के बारे में बताया।’’

होर्ने ने कहा कि दोनों अधिकारियों ने अफगानिस्तान में युद्ध खत्म करने वाले राजनीतिक समझौते समेत साझा उद्देश्य की खातिर दोनों सरकारों के निकटता से एक-दूसरे के साथ काम करते रहने की महत्ता पर सहमति जताई।

उन्होंने बताया कि सुलिवान ने कहा कि अमेरिका अफगान लोगों के साथ दृढ़ता से खड़ा रहेगा।

बाद में पेंटागन ने कहा कि अफगानिस्तान में अमेरिका के लिए भारत के साथ साझेदारी उम्मीदों भरी रही है। भाषा

गोला मानसी

मानसी