Twitter ने देश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही राष्ट्रपति के आधिकारिक अकाउंट को ‘Reset’ करने की योजना बनाई है, जिससे इस अकाउंट के सारे ‘फॉलोअर्स’ हट जाएंगे. इस अकाउंट के 33.3M फॉलोअर्स हैं.

‘ट्विटर’ अकाउंट ‘POTUS’ यानी ‘प्रेसिडेंट ऑफ द यूनाइटेड स्टेट’ को ‘POTUS45’ यानी अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के नाम से संग्रहित (अर्काइव्ह) कर दिया जाएगा. इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकल के अकाउंट को भी ‘POTUS44’ के नाम से संग्रहित किया गया था.

ओबामा के सारे ‘फॉलोअर्स’ सत्ता हस्तांतरण के बाद ट्रंप को मिले ‘POTUS’ अकाउंट पर बरकरार थे.

ट्रंप कार्यकाल के इस अकाउंट के वे ‘फॉलोअर्स’ जो नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और नवनिर्वाचित उप राष्ट्रपति कमला हैरिस जैसे प्रासंगिक अकांउट्स को ‘फॉलो’ करते हैं, उन्हें नए अकाउंट को ‘फॉलो’ करने का सुझाव (नोटिफिकेशन) दिया जाएगा. बाइडन का दल इससे खुश नहीं है.

नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के ‘डिजिटल’ मामलों के निदेशक रॉब फैलेहर्टी ने पिछले सप्ताह ट्वीट किया था कि ‘फॉलोअर्स’ को ‘रीसेट’ करने की योजना ‘‘ पूरी तरह से अपर्याप्त है.’’

वहीं ट्विटर का कहना है कि ‘Reset’ करने से लोगों को नए अकाउंट को ‘फॉलो’ करने ना करने का विकल्प मिलता है.

गौरतलब है कि ट्विटर ट्रंप के आपत्तिजनक और भ्रामक ट्वीट की वजह से उनके निजी ‘रियलडोनाल्डट्रंप’ अकाउंट पर हमेशा के लिए प्रतिबंध लगा चुका है.

जो बाइडन 20 जनवरी को अमेरिका के राष्ट्रपति पद का कार्यभार संभालेंगे और उन्हें नया ‘POTUS’ अकाउंट मिलेगा. इसके साथ ही ट्रंप कार्यकाल से जुड़े ‘पोट्स’ और ‘फोट्स’ (अमेरिका की प्रथम महिला) जैसे अन्य आधिकारिक अकाउंट को संग्रहित कर दिया जाएगा.

इस बीच, फेसबुक ने अपनी नीति में कोई बदलाव नहीं किया है और व्हाइट हाउस के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट पर नए प्रशासन के कार्यभार संभालने के बाद भी ‘फॉलोअर्स’ उतने ही बने रहेंगे, जितने अभी हैं.