उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मथुरा में शराब और मांस की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश दे दिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनके इस फैसले से प्रभावित होने वाले लोगों का व्यवस्थित पुनर्वास किया जाएगा.

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मथुरा में कृष्णोत्सव 2021 कार्यक्रम के दौरान कहा, "संबंधित अधिकारियों को प्रतिबंध की योजना बनाने भी दिया है." 

यह भी पढ़ें: 'बारिश आगे पीछे करने वाला ऐप', उत्तराखंड के मंत्री धन सिंह रावत का हैरान करने वाला दावा

सीएम आदित्यनाथ ने सुझाव दिया कि मथुरा की महिमा को पुनर्जीवित करने के लिए शराब और मांस के व्यापार में लगे लोग दूध बेचना शुरू कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि मथुरा भारी मात्रा में पशु दूध का उत्पादन करने के लिए जाना जाता रहा है.

सीएम आदित्यनाथ ने भगवान कृष्ण से कोरोना वायरस संक्रमण को खत्म करने की भी प्रार्थना की. 

सीएम ने कहा, "बृजभूमि को विकसित करने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा और इसके लिए धन की कोई कमी नहीं होगी. हम क्षेत्र के विकास के लिए आधुनिक तकनीक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विरासत को ध्यान में रखेंगे." 

यह भी पढ़ें:  अब आपको दूसरे राज्य में ट्रांसफर नहीं करानी होगी अपनी गाड़ी, जान लें सरकार के नए नियम

पुजारी से नेता बने योगी आदित्यनाथ ने देश को एक नई दिशा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि लंबे समय से उपेक्षित आस्था के स्थानों को अब पुनर्जीवित किया जा रहा है. इस मौके पर कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी और श्रीकांत शर्मा भी मौजूद थे.

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में छह महीने के करीब का समय बाकी है. यूपी विधानसभा चुनाव साल 2022 के फरवरी-मार्च के महीने में हो सकते हैं. हाल में संपन्न हुए पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन किया था, ऐसे में बीजेपी और सपा के बीच अच्छा मुकाबला देखने को मिल सकता है. 

यह भी पढ़ें: क्या है FIT India मोबाइल ऐप? सरकार ने खेल दिवस पर किया है लॉन्च