नयी दिल्ली, 25 मई (भाषा) उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने बुद्ध पूर्णिमा की पूर्व संध्या पर बधाई देते हुए मंगलवार को कहा कि इस अवसर पर लोगों को भगवान बुद्ध द्वारा दिखाए गए करुणा और सहिष्णुता के मार्ग का अनुसरण करना चाहिए।

बुद्ध पूर्णिमा भगवान बुद्ध की जयंती के मौके पर मनाई जाती है।

उपराष्ट्रपति ने अपने संदेश में कहा, ‘‘भगवान बुद्ध इस धरती के महानतम आध्यात्मिक गुरुओं में से एक थे। भगवान बुद्ध द्वारा दिया गया शांति, भाईचारे और करुणा का शाश्वत संदेश समग्र विश्व के मनुष्यों को नैतिक मूल्‍यों और संतोष पर आधारित जीवन जीने की दिशा में प्रयास करने के लिए प्रेरित करता है।’’

नायडू ने कहा, ‘‘हमारे देश में त्योहार, परिजनों और मित्रों के साथ परस्पर मिलने और उत्सव मनाने का एक महान अवसर होता है, लेकिन कोविड-19 महामारी की स्थिति को ध्‍यान में रखते हुए मैं अपने नागरिकों से आग्रह करता हूँ कि इस त्‍योहार को वे अपने घरों के भीतर और कोविड-संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य और स्‍वच्‍छता प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मनाएं।’’

उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘‘आइए हम खुद को भगवान बुद्ध द्वारा दिखाए गए करुणा और सहिष्णुता के मार्ग के लिए प्रतिबद्ध करें।’’