भारतीय कप्तान विराट कोहली ने गुरूवार को कहा कि नये कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के मौजूदा प्रदर्शन का मसला टीम बैठक में उठा जिसमें सभी ने अपने विचार रखे कि उन्हें क्या करना है.

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट से पूर्व आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कोहली ने इस संक्षिप्त बातचीत का ब्यौरा नहीं दिया. उन्होंने कहा, ‘‘देश में चल रहे सभी मसलों की तरह हमने टीम बैठक में इस पर भी बात की. सभी ने अपनी राय रखी कि उन्हें क्या करना है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘इतना ही है. इसके बारे में संक्षेप में बात हुई जिसके बाद टीम और मैच को लेकर रणनीति पर बात की.’’

बुधवार को कोहली , सचिन तेंदुलकर, कोच रवि शास्त्री समेत कई भारतीय क्रिकेट सितारों ने किसानों के प्रदर्शन पर अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना समेत कुछ अंतरराष्ट्रीय हस्तियों के सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के बाद देश में एकजुटता बनाये रखने की अपील की थी.

कोहली ने ट्वीट किया था, ‘‘असहमति के इस दौर में एकजुटता बनाये रखें. किसान देश का अभिन्न अंग हैं और मुझे यकीन है कि सभी पक्षों के बीच आपसी सहमति से कोई हल निकल आयेगा.’’

भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज शुक्रवार से शुरू होगी. पंजाब , हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हजारों किसान पिछले दो महीने से नये कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से सटी सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं.