गोमा (कांगो), 23 मई (एपी) कांगो के गोमा शहर के नजदीक स्थित ज्वालामुखी माउंट नीरागोंगो शनिवार को फट गया और उससे निकले लावा से करीब 500 से ज्यादा घर नष्ट हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने हालांकि रविवार को बताया कि 20 लाख जनसंख्या वाला यह शहर व्यापक तबाही से बच गया।

प्रभावित क्षेत्र के सैन्य गवर्नर कॉन्सटेंट नदिमा के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि ज्वालामुखी फटने के बाद गोमा से बाहर जाने की कोशिश कर रहे कम से कम पांच लोगों की मौत सड़क दुर्घटना में हो गई। अधिकारियों का कहना है कि अभी मृतकों की सटीक संख्या के बारे में कुछ बता पाना हालांकि जल्दबाजी होगी। उन्होंने बताया कि 500 से ज्यादा घर नष्ट हो गए।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि अधिकारियों ने ज्वालामुखी फटने की आशंका के मद्देनजर क्षेत्र से निकलने का कोई आदेश नहीं दिया था और ऐसे में लोगों ने जब रात के अंधेरे में आकाश एकदम लाल होते देखा तो उन्हें यह डर सताने लगा कि यह ज्वालामुखी विस्फोट भी 2002 जितना ही भयावह हो सकता है। उस समय सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई थी।