श्रीलंका दौरे पर गई सीमित ओवरों की भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने दूसरे एकदिवसीय मैच में जीत के साथ तीन मैचों की श्रृंखला अपने नाम करने के बाद ड्रेसिंग रूम में अपने प्रेरक भाषण में कहा कि ‘टीम इंडिया’ ने चैंपियन की तरह जवाब दिया. जीत के लिए 276 रन का पीछा करने उतरी भारतीय टीम मंगलवार को 36वें ओवर में सात विकेट पर 193 रन बनाकर संघर्ष कर रही थी. दीपक चाहर (नाबाद 69) और भुवनेश्वर कुमार (नाबाद19) की 84 रन की अटूट साझेदारी से हालांकि टीम पांच गेंद शेष रहते तीन विकेट से जीत दर्ज करने में सफल रही.

यह भी पढ़ेंः SL v IND: श्रीलंकाई खिलाड़ियों की हुई बुरी हालत, घर की किस्त भी नहीं चुका पा रहे

बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) डॉट टीवी पर जारी गये गये वीडियो में द्रविड़ ड्रेसिंग रूम में खिलाड़ियों को संबोधित करते दिख रहे है. उन्होंने कहा, ‘‘ जाहिर है मैच के परिणाम के मामले में हम सही जगह रहे. यह अविश्वसनीय और शानदार है, लेकिन अगर हम मैच हार भी जाते तो यह संघर्ष पूरी तरह से शानदार था. आप सभी ने बहुत अच्छा किया. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने कहा था कि वे (श्रीलंका) वापसी करेंगे, हमें पता था कि हमें विरोधी टीम का सम्मान करना होगा. उनसे ऐसी प्रतिक्रिया की उम्मीद थी क्योंकि वे भी एक अंतरराष्ट्रीय टीम हैं. उन्होंने वापसी की लेकिन हमने एक चैंपियन टीम की तरह जवाब दिया.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने मुश्किल परिस्थितियों से बाहर निकलने का तरीका ढूंढा. आप सब ने वास्तव में अच्छा किया.’’

यह भी पढ़ेंः सुरेश रैना ने कहा मैं ब्राह्मण हूं, सोशल मीडिया पर मच गया बवाल

चाहर की एकदिवसीय में यह पहली अर्धशतकीय पारी थी. उन्होंने भुवनेश्वर के साथ शानदार सूझबूझ का परिचय दिया.

द्रविड़ ने कहा, ‘‘यह व्यक्तिगत प्रदर्शन के बारे में बात करने का सही समय नहीं है, जाहिर है कि कुछ शानदार व्यक्तिगत प्रदर्शन देखने को मिले, खासकर मैच के आखिरी पलों में. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने इस बारे में बात की थी, हम इस खेल में हर खिलाड़ी के योगदान को स्वीकार करते हैं . अगर आप पूरे मैच पर नजर डालें तो टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा. हमने गेंदबाजी में भी इतना अच्छा प्रदर्शन किया.’’

इस वीडियो में सूर्यकुमार यादव, भुवनेश्वर और चाहर भी मैच को लेकर अपने अनुभवों को साझा कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: SL v IND: आदत आसानी से नहीं छूटती, श्रीलंका को हारने की लगी है

मैच में 53 रन की पारी खेलने वाले सूर्यकुमार ने कहा, ‘‘मेरे पास शब्द नहीं हैं. मैं जिन मैचों का हिस्सा रहा हूं, उसमें मुझे लगता है कि यह सबसे अच्छा मुकाबला रहा. यह मेरी आंखों के सामने हुआ यह एक अविश्वसनीय जीत है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘भुवी (भुवनेश्वर), हमारे अनुभवी खिलाड़ी और डीसी (चाहर) की बल्लेबाजी के बारे में हम बात करते रहे हैं. आज उन्होंने खुद को साबित किया यह पूरी टीम का प्रयास था. ’’

चाहर ने चुटिले अंदाज में कहा, ‘‘ हर बार गेंदबाजी करने के बाद हमें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिलता था. आज मिला अच्छा लगा 50 ओवर क्षेत्ररक्षण करने के बाद मैंने लगभग 25 ओवर तक बल्लेबाजी की.’’

ये भी पढ़ें: नंबर-8 पर उतरे दीपक चाहर ने उड़ाया गर्दा, मार लिया मैदान, विराट-रोहित ने कही ये बात