क्रिकेट में कई ऐसे विवाद हुए हैं जो इस जेंटलमैन गेम को शोभा नहीं देते. ऐसा ही एक विवाद भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक ओपनर वीरेंद्र सहवाग से भी जुड़ा हुआ है. दरअसल, एक बार सहवाग को एक शख्स ने थप्पड़ जड़ दिया था. जब सौरव गांगुली की ये बात पता चली तो वह बहुत आग बबूला हो गए. ये किस्सा साल 2002 का है जब भारतीय टीम वनडे सीरीज के लिए इंग्लैंड दौरे गई थी.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के इस क्रिकेट स्टेडियम में हो रही है खेती, उगाए जा रहे हैं मिर्च

खुद भारतीय कोच ने जड़ा था थप्पड़

साल 2013 में बीसीसीआई के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने इस बात का खुलासा किया था. साल 2002 में हुए इंग्लैंड दौरे के लिए वनडे टीम इंडिया के कोच जॉन राइट थे. उन्होंने सहवाग की खराब बल्लेबाजी से नाराज होकर उन्हें एक थप्पड़ जड़ दिया था. सहवाग लगातार असफल हो रहे थे. जिसके बाद एक दिन काफी गुस्से में जॉन ने ऐसा कदम उठाया था.

गांगुली को पसंद नहीं आया ये रवैया

जब गांगुली को इसकी खबर लगी कि सहवाग को राइट ने थप्पड़ मारा है तो काफी नाराज हो गए. जिसके बाद गांगुली ने उस वक्त के टीम मैनेजर राजीव शुक्ला से इस बात की शिकायत की और जॉन से माफी मांगने को कहा. जिसके बाद शुक्ला ने गांगुली से कहा कि वह इस मुद्दे पर जॉन राइट से चर्चा करेंगे. जब जॉन राइट ड्रेसिंग रूम के बाहर सिगरेट पी रहे थे, तब शुक्ला ने इस मुद्दे को उठाया.  

यह भी पढ़ें: IND के हाथों हार बर्दास्त नहीं हुई तो ENG ने टीम में शामिल किया दुनिया का नंबर एक बल्लेबाज

जिसके बाद मचा बवाल 

जॉन ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने एक टीचर की तरह सहवाग पर गुस्सा उतारा था. जॉन ने आगे कहा, 'मैंने केवल धक्का दिया है, थप्पड़ नहीं मारा है. वह बार-बार एक ही गलती कर रहा था. मुझे उसकी गलती बर्दाश्त नहीं हो रही थी.' लेकिन सौरव गांगुली ने कहा कि उन्हें माफी मांगनी ही पड़ेगी.  

सचिन ने कही ये बात 

इस सब बवाल के बाद सचिन, राजीव शुक्ला को अलग बात करने के लिए ले गए और कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए जॉन राइट को माफी नहीं मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मुझे सचिन की सलाह समझ आ गई. इसके बाद राजीव शुक्ला ने सहवाग को समझाया. सहवाग भी उनकी बात समझ गए और उन्होंने कहा कि जॉन को माफी मांगने की कोई जरूरत नहीं है.

यह भी पढ़ें: विराट कोहली और रोहित शर्मा का याराना सोशल मीडिया पर वायरल