भारतीय निशानेबाज ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने बुधवार को यहां ISSF विश्व कप की पुरूषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन कॉम्पिटिशन में गोल्ड मेडल अपने नाम किया और मेजबान देश का शीर्ष पर स्थान मजबूत किया.

भोपाल के 20 साल के ऐश्वर्य ने डा कर्णी सिंह शूटिंग रेंज पर 462.5 अंक से पहला स्थान हासिल किया और हंगरी के स्टार राइफल निशानेबाज इस्तवान पेनी (461.6) और डेनमार्क के स्टेफेन ओलसेन (450.9) से आगे रहे. यह भारत का इस टूर्नामेंट में आठवां गोल्ड मेडल है.

यह भी पढ़ेंः कौन थे थीपेत्ती गणेशन? उनके निधन पर तमिल फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर

फाइनल में भारत के अनुभवी संजीव राजपूत और नीरज कुमार ने भी क्वालीफाई किया था लेकिन वे क्रमश: छठे और आठवें स्थान पर रहे.

ऐश्वर्य ने शानदार शुरूआत करते हुए कुछ समय तक बढ़त भी बनाये रखी लेकिन उन्होंने स्टैंडिंग एलिमिनेशन चरण में 10.4, 10.5 और 10.3 अंक जुटाकर वापसी की.

यह भी पढ़ेंः टीम इंडिया और दिल्ली कैपिटल्स के लिए बुरी खबर, श्रेयस अय्यर के कंधे की हड्डी खिसकी

ऐश्वर्य तोक्यो ओलंपिक के लिये कोटा हासिल कर चुके हैं. उन्होंने 2019 एशियाई निशानेबाजी चैम्पियनशिप की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर भारत के लिये ओलंपिक कोटा हासिल किया था.

उन्होंने तीन दिन पहले दीपक कुमार और पंकज कुमार के साथ मिलकर पुरूष टीम एयर राइफल स्पर्धा में रजत पदक भी जीता था.

यह भी पढ़ें: सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण के पुराने क्रिकेट क्लब के लिए खेलेंगे श्रेयस अय्यर

राजपूत क्वालीफिकेशन में 1172 अंक से शीर्ष पर थे जबकि ऐश्वर्य और नीरज कुमार ने 1165 का समान स्कोर जुटाया.

इस्तवान पेनी, ऐक्सी लेप्पा (फिनलैंड), जान लोचबिहलर (स्विट्जरलैंड), जुहो कुर्की (फिनलैंड) और ओलसेन फाइनल में जगह बनाने वाले अन्य निशानेबाज थे. फाइनल 45 शॉट का मुकाबला होता है जिसमें नीलिंग, प्रोन और स्टैडिंग की तीन सीरीज होती है.

यह भी पढ़ेंः सस्ते LPG कनेक्शन के लिए सरकार कर रही है ये प्लान!

ऐश्वर्य नीलिंग पोजिशन में 155.0 अंक से आठ पुरूषों के फाइनल में सबसे आगे थे जबकि प्रोन में 310.5 अंक से ओलसेन (311.4) के पीछे और पेनी (309.5) से आगे दूसरे स्थान पर रहे.

  यह भी पढ़ें: अगर आपने लोन लिया है तो जान लें सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला, लाखों कर्जधारक को झटका