राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए मामले कम आ रहे हैं. वहीं, कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या भी बढ़ गई है. हालांकि एहतियात के तौर पर केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में लॉकडाउन को 14 जून सुबह 5 बजे तक लिए बढ़ा दिया है. लेकिन इसके साथ ही लॉकडाउन में कई रियायतें भी दी है. इसमें न सिर्फ दुकानों को खोलने की इजाजत दी गई है बल्कि मेट्रो और ऑफिस भी शुरू करने की मंजूरी दी गई है.

यह भी पढ़ेंः Happy Birthday Yogi Adityanath: अजय सिंह बिष्ट कैसे बने योगी आदित्यनाथ, जानें

दिल्ली में 7 जून से नए दिशा निर्देशों के साथ अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होगी. हालांकि, स्थित सही रही तो ये आगे जारी रहेगी वरना फिर से लॉकडाउन लगाने की भी बात कही गई है.

यह भी पढ़ेंः एक्टर पर्ल वी पुरी को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार, नाबालिक से रेप का है आरोप

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने 7 जून से शुरू हो रहे लॉकडाउन को लेकर बताया कि, कुछ चीजों में रियायते इस हफ्ते यानी सोमवार से बढ़ाई जा रही है. इसमें दुकानों को खोलने की इजाजत दी गई है. लेकिन बाजार ऑड और ईवन फॉर्मूले पर खोले जाएंगे. यानी आधी दुकाने सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को खुलेंगी और आधी दुकानें मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को खोले जाएंगे.

दुकान खोलने का समय 10 बजे से 8 बजे तक होगा. वहीं, जरूरी सेवाओं के दुकान रोजाना खुलेंगे. इसके अलावा ई-कॉमर्स के जरिए होम डिलिवरी करने की इजाजत होगी.

यह भी पढ़ेंः पोषक तत्वों से भरपूर औषधीय गुणों का खजाना है जामुन, जान लें इसके फायदे

दिल्ली सरकार ने सभी दफ्तरों को खोलने की इजाजत दी है लेकिन इसमें शर्त रखी गई है कि, ग्रुप-ए के सभी 100 प्रतिशत अफसर काम करेंगे, जबकि अन्य ग्रुप के 50 प्रतिशत अधिकारियों के साथ काम करेंगे. सभी प्राइवेट ऑफिस को 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खोले जाएंगे. सरकार ने कहा है कि कोशिश होनी चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा लोग घर से काम करें.

यह भी पढ़ेंः DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को दी स्पूतनिक-V वैक्सीन बनाने की इजाजत

केजरीवाल सरकार ने राहत देते हुए दिल्ली मेट्रो की सेवा भी शुरू करने की मंजूरी दी है. दिल्ली मेट्रो 10 मई से बंद है. अब 50 प्रतिशत कैपेसिटी के साथ इस सेवा को खोलने की इजाजत दी गई है.

आपको बता दें, इससे पहले 1 जून से सरकार ने कंस्ट्रक्शन और फैक्ट्री के काम को शुरू करने की इजाजत दी थी. वहीं, अब मामले 500 से कम आ रहे हैं और संक्रमण का दर 0.5 प्रतिशत से कम है.

यह भी पढ़ेंः WhatsApp का नया फीचर, 4 डिवाइस में एक साथ चला सकेंगे सिंगल अकाउंट

यह भी पढ़ेंः RBI ने किया NACH में बदलाव, बैंक में छुट्टी होने पर भी आएगी सैलरी