World Tuberculosis Day (वर्ल्ड टीबी डे) हर साल 24 मार्च को मनाया जाता है. इस दिन जागरुकता के लिए मनाया जाता है, जिससे लोग इस संक्रमाक बीमारी को लेकर जागरुक रहें. ये एक वैक्टीरिया से फैलने वाली बीमारी है. इसके लक्षण जल्द पता किए जा सकते हैं और इससे बचाव भी किया जा सकता है. ये फेफड़ों से जुड़ी संक्रमाक बीमारी है.

यह भी पढ़ेंः Health Tips: किसी को जम्हाई लेते देखकर हमें भी क्यों आती है उबासी? जानें इसके पीछे की वजह

टीबी के बारे में सही समय पर पता चल जाने से इसका इलाज किया जा सकता है. इसके ज्यादातर मामले एंटीबायोटिक दवाओं से टीक हो जाते हैं. हालांकि, इसमें थोड़ा वक्त लगता है.

यह भी पढ़ेंः Health Tips: जिम में कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं ये तीन बड़ी गलतियां

Tuberculosis दो तरह के होते हैं. इसमें से एक लटेंटे टीबी है जिससे लोग बीमार नहीं करते हैं. क्योंकि आपका इम्यून सिस्टम इसे शरीर में फैलने से बचा लेता है. ये संक्रामक नहीं होता है. हालांकि, शरीर में होने की वजह से ये कभी भी एक्टिव हो सकते हैं.

वहीं, दूसरे टीबी को एक्टिव टीबी कहते हैं. ये शरीर में जल्दी फैलने लगते हैं. एक्टिव टीबी संक्रामक होता है.

यह भी पढ़ेंः Health Tips: आप भी पीते हैं दिन में 3-4 कप Green Tea? जानें इसे पीने का सबसे खराब समय

ऐसे जानें टीबी के लक्षण

लेटेंट टीबी के लक्षण सामान्यतौर पर पता नहीं चलते हैं. ये बल्ड टेस्ट से पता किया जा सकता है. वहीं, एक्टिव टीबी में 3 हफ्ते से ज्यादा तक कफ बना रह सकता है. जब संक्रमण बढ़ जाता है तो खांसी के साथ खून आने लगता है. वहीं भूख न लगना, ठंड लगाना, बुखार आना, वजन कम होना, थकान महसूस करना, छाती में दर्द होना ऐसे लक्षण दिखने लगते हैं. ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए.

यह भी पढ़ेंः Health Tips: क्या आप भी दूध के साथ लेते हैं ये 10 चीजें? आज ही छोड़ दें, कर सकता है नुकसान

टीबी एक संक्रामक बीमारी है. ये संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से फैलती है. हालांकि, हेल्दी इम्यून सिस्टम के द्वारा टीबी से लड़ा जा सकता है.

यह भी पढ़ेंः Health Tips: सुबह उठकर कहीं आप भी तो नहीं करते ये 6 गलतियां? हो जाइए सावधान