उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश के लोगों को बड़ा तोहफा देने का फैसला किया है. इसके तहत सरकार मुफ्त वाई-फाई (Free Wi-Fi) देगी. इसके तहत 217 शहरों में इसके लिए सार्वजनिक स्थान चिन्हित हो रहे हैं. सरकार 17 नगर निगम वाले शहरों सहित कुल 217 जगहों पर मुफ्त वाई-फाई सुविधा देने जा रही है. सरकार ने कैबिनेट बैठक में ये फैसला लिया है.

यह भी पढ़ेंः ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों के दर्जनों किस्से, लेकिन सरकार की रिपोर्ट में नहीं

उत्तर प्रदेश सरकार लखनऊ, कानपुर, आगरा, अलीगढ़, वाराणसी, प्रयागराज, झांसी, बरेली, सहारनपुर, मुरादाबाद, गोरखपुर, अयोध्या, मेरठ, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, मथुरा-वृंदावन और फिरोजाबाद नगर निगम वाले शहरों के अलावा 200 नगर पालिका परिषद वाले शहरों में यह सुविधा प्रदान करेगी.

फ्री वाई-फाई की सुविधा खासकर बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, तहसील, कचहरी, ब्लॉक व रजिस्ट्रार कार्यालय के आसपास दी जाएगी.

यह भी पढ़ेंः वाईफाई पासवर्ड नहीं है तो इस ट्रिक से करें आसानी से कनेक्ट

कैबिनेट की बैठक में इसके अलावा प्रयागराज में हाई कोर्ट के वकील के चैंबर बढ़ाकर 1400 से 2500 किए जाने का प्रस्ताव पास किया गया है. संस्कृत माध्यमिक विद्यालय में प्रधानाचार्य और अध्यापक के पदों की नियुक्ति को लेकर प्रस्ताव पास हुए हैं. 40 लाख अंत्योदय होल्डर के जो परिवार 2011 सत्र से छूटे हुए हैं उनको भी 5 लाख रुपये के स्वास्थ्य बीमा के जरिए कवर किया जाएगा. कैबिनेट बैठक में कुल 29 प्रस्ताव पास हुए हैं.

यह भी पढ़ेंः ममता बनर्जी ने कहा- जब तक बीजेपी को देश से खदेड़ नहीं देते तब तक 'खेला होबे'

इसके अलावा अयोध्या जनपद से जुड़े तीन प्रस्तावों पर मुहर लगी है. अयोध्या, अकबरपुर, बसखारी मार्ग के चौड़ीकरण किया जाएगा. अयोध्या के माया बाजार में 3 किमी का बाईपास बनाया जाएगा. मथुरा में यमुना एक्सप्रेस-वे से जुड़े कोसी, नंदगांव, गोवर्धन मार्ग के चौड़ीकरण के प्रस्ताव पर मुहर लगी. अंबेडकरनगर से अयोध्या को जोड़ने वाला बाईपास बनेगा. कौशांबी और प्रयागराज को जोड़ने के लिए 4 लेन सड़क बनाने का प्रस्ताव भी पास हुआ है.